Sunday, October 23, 2016

तन्‍हा-तन्‍हा


''झि‍लमि‍लाती नदी में अक्‍स अपना है कि‍तना तन्‍हा
बस उनको खबर न हो कि‍ हम हैं इतने तन्‍हा -तन्‍हा''

2 comments:

Rohitas ghorela said...

तन्हाई देने वालों को क्या पता नही होता
हम कितने तन्हा हैं....


बहुत खूब

savan kumar said...

Bshut sundar