Monday, January 8, 2018

प्यार तो करता है....


हमसे था कोई रिश्ता,इकरार तो करता है
छुप छुप के मुझे देखे,वो प्यार तो करता है
थम जाए मेरी सिसकी,मिल जाए सुकूँ थोड़ा
काँधे पे रखे सर वो ,इज़हार तो करता है
शिकवा करे दिल मेरा,मशरूफ मुहब्बत का
हर रोज मुझे मिलकर तकरार तो करता है
वो दूर खड़ा मुझसे,पास आना भी गर चाहे
दिल उसका है दीवाना ,दीदार तो करता है
कहती है यही रश्मि,दुनिया की रवायत है
वो मेरा दीवाना है और प्यार तो करता है

7 comments:

kuldeep thakur said...

जय मां हाटेशवरी....
हर्ष हो रहा है....आप को ये सूचित करते हुए.....
दिनांक 09/01/2018 को.....
आप की रचना का लिंक होगा.....
https://www.halchalwith5links.blogspot.com
पर......
आप भी यहां सादर आमंत्रित है.....

sweta sinha said...

वाह्ह्ह👌👌👌
लाज़वाब गज़ल रश्मि जी।

अनीता लागुरी said...

खूबसूरत लिखा आपने,।

शुभा said...

वाह!!बहुत खूब!!

रश्मि शर्मा said...

धन्यवाद

सदा said...

वाआआह बहुत खूब

राजा कुमारेन्द्र सिंह सेंगर said...

आपकी इस पोस्ट को आज की बुलेटिन श्रद्धा-सुमन गुदड़ी के लाल को : ब्लॉग बुलेटिन में शामिल किया गया है.... आपके सादर संज्ञान की प्रतीक्षा रहेगी..... आभार...