Wednesday, April 27, 2011

बेबस


यादें
कभी मरती नहीं
और न ही
खत्‍म होती हैं
भावनाएं दि‍ल की,
बात ये अलग है कि‍
हालात बदल जाते हैं तो
कल्‍पनाएं
थम जातीं हैं
फि‍र नया कुछ
सोच नहीं पाता दि‍ल
और बेबस हो
गुजरे कल में
पुराना चेहरा तलाशा करता है......

1 comment:

Ashok said...

छोटा सा सुंदर सा अनुभव ... आप कैसे सहज ढंग से ख देती हाँ सब ...